[कर्मचारी /पेंशनर्स]हरियाणा कैशलेस चिकित्सा सुविधा|ऑनलाइन आवेदन|

हरियाणा कैशलेस चिकित्सा |कैशलेस चिकित्सा सहायता हरियाणा|हरियाणा में  कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए कैशलेस मेडिकल सुविधा

प्यारे दोस्तों आप सभी को यह जानकर बहुत ही खुशी होगी कि हरियाणा सरकार ने फैसला किया है कि कैशलेस चिकित्सा सुविधा का आयोजन किया जाएगा इसमें 6 जानलेवा बीमारियों के लिए राशि दी जाएगी तथा लोगों का उपचार किया जाएगा इस सुविधा का लाभ केवल कर्मचारी और जो पेंशन लेने वाले हैं वहीं ले सकते हैं|

यह सुविधा राज्य के लाभार्थियों को सरकारी अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों और सरकार के पैनल पर सभी 67 अस्पतालों में मिलेगी। इनमें कर्मचारियों व पेंशनर्स को 5 लाख रुपये तक के बिल की नहीं देना होगा| इससे राज्य के सभी नियमित कर्मचारियों और पेंशनर्स को बीमारियों के लिए 5 लाख रुपए तक का नकद राशि रहित उपचार प्रदान किया जाएगा।

हरियाणा कैशलेस चिकित्सा सहायता

  • स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इसके लिए संबंधित विभागों को अपने कर्मचारियों के आधार लिंक सहित परिचय पत्र और पेंशनर्स के पीपीओ क्रमांक जारी करने होंगे।
  • ताकि मरीजों को अपनी पहचान बताने में किसी प्रकार की दिक्कत न आए।
  • इसके साथ ही उन्हें विभाग की वेबसाईट पर अपने कर्मचारियों/पेंशनर्स की सूची उपलब्ध करवानी होगी।
  • इस योजना से मरीज को हृदय, मस्तिष्क रक्तश्राव, बिजली का झटका, कोमा, तीसरे व चौथे स्तर का कैंसर और दुर्घटनाओं सहित 6 जानलेवा आपात स्थितियों में कैशलेस सुविधा प्राप्त होगी।
  • इसमें सीटी स्कैन, एमआरआई, डायलिसिस, कार्डियक कैथ लैब जैसी महत्वपूर्ण सेवाएं शामिल हैं।
    इसके लिए सरकार के पैनल पर आधारित निजी अस्पतालों को अलग से सहायता केन्द्र और एक नोडल अधिकारी नियुक्त करना होगा।
  • जो कि मरीज के बिलों का आदान-प्रदान संबंधित विभागों में करेगा।
  • इन अस्पतालों को बिलों की प्राप्ति के 60 दिनों में भुगतान किया जाएगा।
  • इसके साथ ही सभी विभागों को नोडल अधिकारी की देखरेख में एक अलग विंग स्थापित करनी होगी।
  • जो कि अस्पतालों से प्राप्त होने वाले बिलों के भुगतान की प्रक्रिया को सरल बनाएंगे।

महत्वपूर्ण सूचना:

कैशलैस मैडिकल चिकित्सा सुविधा के दौरान पांच लाख रूपये तक की राशि के ईलाज का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा अन्य बीमारियों के ईलाज के लिए भी कर्मचारियों को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ दिया जाता है।

इनके लिए कर्मचारी ईलाज के दो माह के अंदर मैडिकल बिलों की प्रतियां जमा करवानी अनिवार्य है।

प्रत्येक जिला पर मैडिकल कैशलैस योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए संबंधित मैडिकल अधीक्षक को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

किसी भी तरह की समस्या के समाधान के लिए मैडिकल अधीक्षक से सम्पर्क स्थापित किया जा सकता है।

हृदयाघात के रोगियों के लिए भी यह सुविधा प्रदान की गई है। इसके अलावा, ब्रेन हेमरेज तथा बिजली के शॉट से घायलों को भी कैशलैस मैडिकल चिकित्सा सुविधा का लाभ देने का निर्णय लिया गया है।

यह योजना प्रदेश के सभी सरकारी मैडिकल कालेज, सहायता प्राप्त मैडिकल कालेज, जिला अस्पतालों, अन्य स्वास्थ्य संस्थानों के अलावा पैनल पर रखे गए प्राइवेट अस्पतालों में लागू होगी।

इस योजना का लाभ लेने के लिए सभी कर्मचारियों व पेंशनर्ज को संबंधित विभागों से पात्र पहचान पत्र बनवाना अनिवार्य है, जो चिकित्सा के दौरान प्रस्तुत किया जा सकता है।

कैशलेस मैडिकल चिकित्सा में विशेषकर सभी प्रकार की दुर्घटनाओं को शामिल किया गया है।

यदि कोई कर्मचारी अचानक सडक़ व अन्य दुर्घटना में घायल हो जाता है तो उसे तत्काल पैनल अस्पताल में दाखिल करवाने पर बिना पैसे के बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलेगी। दुर्घटना के दौरान कोमा में जाने वाले कर्मचारियों व पेंशनर्ज को भी इस सुविधा से जोड़ा गया है।

इससे पूर्व इस तरह घायल होने वाले कर्मचारियों और पेंशनर्ज को अपनी जेब से पैसा खर्च करना पड़ता था, जो उसे बाद में बिलों की पूर्ति करने पर ही मिलता था। इसके अलावा, कैंसरग्रस्त रोगियों के लिए भी यह योजना क्रियान्वित की गई है।

यदि किसी कर्मचारी को कैंसर रोग हो जाता है और वह तीसरी व चौथी स्टेज पर है तो उसका ईलाज कैशलैस सुविधा के तहत होगा।

 

हरियाणा कैशलेस चिकित्सा सुविधा के लिए पात्रता

  • जो भी व्यक्ति सुविधा को लेना चाहता है वह कर्मचारी या पेंशनधारक होना चाहिए |
  • इस सुविधा का लाभ लेने के लिए व्यक्ति के पास आधार कार्ड या पैन कार्ड का होना भी जरूरी है |
  • आवेदन करने वाला व्यक्ति कर्मचारी है या पेंशन लेता है तो उसके पास पूरे कागजात होने चाहिए|

हरियाणा कैशलेस स्वास्थ्य सुविधा के लिए ऑनलाइन आवेदन

  • दोस्तों हम बता दें जल्दी ही इसकी ऑफिशियल वेबसाइट लांच कर दी जाएगी जिस पर आप ऑनलाइन आवेदन कर के कैशलेस चिकित्सा सुविधा का लाभ उठा सकते हैं|
  • या फिर आप हॉस्पिटल में जाकर भी जिन अस्पतालों की सूची दी गई है उनमें जाकर अपना मुफ्त में इलाज करवा सकते हैं|

दोस्तों यदि आपको हरियाणा कैशलेस चिकित्सा सुविधा के बारे में और जानकारी चाहिए या कुछ समझ नहीं आ रहा है तो मुझे कमेंट करें मैं आपके प्रश्नों का जवाब जरूर दूंगी कृपया मेरे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर करना ना भूलिए|

3 comments

  • VISHAL

    PARDHANMANTRI MUDRA SOJNA YE NAI H…

    Reply
  • Karambir

    Abhi tak private hospital cashless treatment kyo nahi kar rahe

    Reply
    • Arti

      krambir ji किसी भी तरह की समस्या के समाधान के लिए मेडिकल अधीक्षक से संपर्क स्थापित किया जा सकता है। हृदयाघात के रोगियों, ब्रेन हेमरेज तथा बिजली के शॉट से घायलों को भी कैशलेस मेडिकल चिकित्सा सुविधा का लाभ देने का निर्णय लिया गया है। यह योजना प्रदेश के सभी सरकारी मेडिकल कालेज, सहायता प्राप्त मेडिकल कालेज, जिला अस्पतालों, अन्य स्वास्थ्य संस्थानों के अलावा पैनल पर रखे गए प्राइवेट अस्पतालों में लागू होगी। सभी कर्मचारियों व पेंशनर्ज को संबंधित विभागों से वैध पहचान पत्र बनवाना अनिवार्य है, जो चिकित्सा के दौरान प्रस्तुत किया जा सकता है।

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!